Dard Bhari Shayari In Hindi ! 100+ Latest दर्द भरी शायरी

dard bhari shayari

dard bhari shayari, dard bhari shayari in hindi, dard bhari shayari hindi, dard bhari shayari in hindi for love, shayari dard bhari, dard bhari dosti shayari, dard bhari shayari image. Read Also Sad Shayari

Dard bhari shayari with images

dard bhari shayari

dard bhari shayari

आज अचानक उसे मेरी याद आयी है
लगता है फिर ..कोई…
मुसीबत उसके पास आई है

aaj achaanak use meri yaad aayi hai
lagata hai phir ..koi
museebat usake paas aayi hai

यूँ तो ए ज़िन्दगी तेरे सफर से शिकायते बहुत थी,
मगर दर्द जब दर्ज कराने पहुँचे तो कतारे बहुत थी !!

yun to A- zindagee tere saphar se
shikaayate bahut thi,
magar dard jab darj karaane
pahunche to kataare bahut thi !!

Whatsapp Shayari ~ Latest शायरी in Hindi Image for FB,

मैंने आज भी तेरे हिस्से का वक्त किसी को
नहीं दिया और तूने मेरे हिस्से का
प्यार भी किसी और को दे दिया….!!

maine aaj bhi tere hisse ka vakt kisi ko
nahin diya aur tune mere hisse ka
pyaar bhi kisi aur ko de diya….!!

“बेख़्याली” मे भी हमें
बस तेरा “ख़्याल” आया
बेशक़ “कुर्बां” कर दी
“जिदंगी” हमनें तेरे लिए
फिर भी तुम्हें “इश्क” मे
न कभी भी “ऐतबार” आया

“bekhyali” me bhi humen
bas tera “khyaal” aaya
beshaq “kurbaan” kar di
“jidangi” hamanen tere liye
phir bhi tumhen “ishq” me
na kabhi bhi “aitabaar” aaya

Funny Shayari In Hindi { 2019 } बेस्ट फनी शायरी हिंदी

बहुत भीड़ थी उनके ..दिल ..मे
खुद नही निकलते
तो निकाल दिए जाते …. हम

bahut bheed thi unake ..dil ..me
khud nahi nikalate
to nikaal diye jaate …. ham

dard bhari shayari

dard bhari shayari

आधा ख्वाब, आधा इश्क़,आधी सी है बंदगी,
मेरे हो…पर मेरे नही.. कैसी है ये जिंदगी

aadha khwab, aadha ishq,
aadhi see hai bandagi,
mere ho…par mere nahi..
kaisi hai ye jindagi

Love Shayari ~Latest 100+ Love Shayari in Hindi |

किस मुँह से इल्ज़ाम लगाएं बारिश की बौछारों पर,
हमने ख़ुद तस्वीर बनाई थी मिट्टी की दीवारों पर

kis munh se ilzaam lagaen
baarish kee bauchhaaron par,
hamane khud tasveer banaee thee
mittee kee deevaaron par

dard bhari shayari hindi

💞तन्हा कर गया वो शक्स
मुझे सिर्फ इतना कह कर💞
💞सुना है मोहब्बत बढ़ती है
बिछड़ जाने के बाद💞

💞tanha kar gaya vo shaks
mujhe sirph itana kah kar💞
💞suna hai mohabbat badhati hai
bichhad jaane ke baad💞

ये बेख्याली, ये सूनापन, ये बेसबब उदासियाँ,
इक चाँद ना हो तो आसमां सूना सा लगता है

ye bekhyali, ye soonaapan,
ye besabab udaasiyaan,
ik chaand na ho to aasamaan
soona sa lagata hai

तेरे बिछड़ जाने के बाद, कुछ यूं हुवा मेरे साथ
हक़ीम ने भी कहाँ, बड़ी अजीब लाश है,
सांस भी लेती है!!!🕊

tere bichhad jaane ke baad,
kuchh yoon huva mere saath
haqeem ne bhee kahaan,
badee ajeeb laash hai,
saans bhee letee hai!!!🕊

कोई मिला ही नही जिसको वफा देता
सभी ने धोखा दिया किस किस को सज़ा देता
ये तो हम थे की चुप रह गए वरना
दास्तान सुनाता तो महफ़िल को रुला देता

koi mila hee nahee jisako vapha deta
sabhee ne dhokha diya kis kis ko saza deta
ye to ham the kee chup rah gae varana
daastaan sunaata to mahafil ko rula deta

ए दिल भूल जा पागल दुनिया से दिल लगाना
वफ़ा करो तो सजा देते है
खामोश रहो तो भुला देते है

e dil bhool ja pagal duniya se dil lagaana
wafa karo to saja dete hai
khaamosh raho to bhula dete hai

बड़ा सुकून दे रहा है उनका मुस्कुराना…
बर्बादी का आगाज भी कितना हसीन है
ये आज हमने जाना

bada sukoon de raha hai unaka muskuraana…
barbaadee ka aagaaj bhee kitana haseen hai
ye aaj hamane jaana

न चाहत न मोहब्बत न इश्क़ और न वफ़ा,
कुछ भी तो नहीं था उसके पास इक हुस्न के सिवा।

na chaahat na mohabbat na ishq aur na wafa,
kuchh bhi to nahin tha usake paas ik husn ke siva.

दिल ने सोचा था की टूट कर चाहेंगे उसे
सच मानो, टूटे भी बहुत, चाहा भी बहुत

dil ne socha tha kee
toot kar chaahenge use
sach maano, toote bhee bahut,
chaaha bhee bahut

dard bhari shayari in hindi for love

रास्ते अलग हो भी जाये
मंजिल पे हमे ही पाओगे
हम से जुदा हो न पाओगे
प्यार को गहरहियो में तो हमे ही पाओगे

raaste alag ho bhee jaaye
manjil pe hame hee paoge
ham se juda ho na paoge
pyaar ko gaharahiyo mein to hame hi paoge

मेरी मौत के सबब आप बने;
इस दिल के रब आप बने;
पहले मिसाल थे वफ़ा की;
जाने यूँ बेवफ़ा कब आप बने।

meri maut ke sabab aap bane;
is dil ke rab aap bane;
pahale misaal the vafa kee;
jaane yoon bevafa kab aap bane.

तू तो नफ़रत भी न कर पाएगा इस शिद्दत के साथ
जिस बला का प्यार तुझ से बे-ख़बर मैं ने किया

too to nafarat bhi na kar paega
is shiddat ke saath
jis bala ka pyaar tujh se
be-khabar main ne kiya

आज अचानक तेरी याद ने मुझे ने मुझे रुला दिया
क्या करू तुमने जो मुझे भुला दिया
न करती वफ़ा न मिलती सजा
शायद मेरी वफ़ा ने ही तुझे बेवफा बना दिया

aaj achaanak teri yaad ne mujhe ne mujhe rula diya
kya karoo tumane jo mujhe bhula diya
na karatee vafa na milatee saja
shayad meri wafa ne hee tujhe bewafa bana diya

पतझड़ के मौसम में दिल को सुकून बहुत मिलता है
शाख से टूटे हर पत्ते में चेहरा अपना जो दिखता है

patajhad ke mausam mein
dil ko sukoon bahut milata hai…
shaakh se toote har patte mein
chehara apana jo dikhata hai

प्यार करने वाले की किस्मत खराब होती है
हर वक्त दुःख की घड़ी साथ होती है
वक्त मिले तो रिश्तों की किताब पढ़ लेना
दोस्ती हर रिश्ते से लाजवाब होती है

pyar karne wale ki kismat kharab hoti hai
har vakt duhkh kee ghadee saath hoti hai
vakt mile to rishton kee kitaab padh lena
dosti har rishte se lajawab hoti hai

*तुम दूर जाओ तो बेचैनी मुझे ही होती है..!!
*महसूस करके देखो मोहब्बत ऐसी ही होती है

*tum door jao to bechainee
mujhe hee hoti hai..!!*
*mahasoos karake dekho
mohabbat aisee hee hoti hai..!*

shayari dard bhari

*गिरते हुऐ अश्क की कीमत न पूछना,*
*इश्क़ के हर बूंद में लाखों सवाल होते हैं*

*girate huai ashk ki kimat na poochhana,*
*ishq ke har boond mein laakhon swal hote hain….*

*नाम देने से कौन से रिश्ते सँवर जाते हैं
*जहाँ रूह न बँधे दिल बिखर जाते हैं

*naam dene se kaun se rishte sanvar jaate hain,,,!*
*jahaan rooh na bandhe dil bikhar jaate hain,,,!*

जज़्बा-ऐ-दिल का तक़ाज़ा है कि,, बाज़ी जीत लूँ
एहतियात-ऐ-इश्क़ कहती है कि,, हारे जाइए

jazba-ai-dil ka taqaaza hai ki,, baazee jeet loon
ehatiyaat-ai-ishq kahatee hai ki,, haare jaie

पत्थर का शहर और गुफतगु की आरजू…
हम किस से करें बात कोई बोलता नहीं…✍️

patthar ka shahar aur guphatagu kee aarajoo…
ham kis se karen baat koee bolata nahin…✍

एक वो हैं कि जिन्हें अपनी ख़ुशी ले डूबी
एक हम हैं कि जिन्हें ग़म ने उभरने न दिया

ek vo hain ki jinhen
apanee khushi le doobi
ek ham hain ki jinhen
gam ne ubharane na diya

अगर अपनी किस्मत लिखने का
जरा सा भी हक हो मुझे…
तो अपने नाम के साथ तुझे हर बार लिखुं..।।

agar apani kismat likhane ka
jara sa bhi hak ho mujhe…
to apane naam ke
saath tujhe har baar likhun

नींद आए या ना आए…
चिराग बुझा दिया करो ❤️
यूँ रात भर किसी का जलना,
हमसे देखा नहीं जाता…!!

neend aaye ya na aaye…
chiraag bujha diya karo ❤
yoon raat bhar kisee ka jalana,
hamase dekha nahin jaata…!!

shayari dard bhari hindi me

dard bhari shayari

dard bhari shayari

भरोसा खत्म हो जाने पे बाकी कुछ नहीं रहता,
ये वो कागज़ है जिसकी कार्बन कॉपी नहीं होती

bharosa khatm ho jaane pe
baki kuchh nahin rahata,
ye vo kaagaz hai jisakee
carban copy nahin hoti !! 🖤

*जो कभी न भर पाये*
*ऐसा भी एक घाव है,,*
*जी“ हाँ *उसका नाम लगाव है

*jo kabhi na bhar paye*
*aisa bhi ek ghaav hai,,*
*ji“ haan *usaka naam lagaav hai

*पहली मोहब्बत पुराने मुकदमे की तरह होती है..!!*
*न खत्म होती है और न इंसान को बाइज्जत बरी करती है

*pahli mohabbat purane
mukadame kee tarah hoti hai..!!*
*na khatm hoti hai aur na
insaan ko baijjat bari karti hai..!!

*कितने अनमोल होते है तेरी यादों के रिश्ते भी*
*तुम याद ना भी क्ररो चाहत फिर भी रहती है.*💐

*kitane anamol hote hai
teree yaadon ke rishte bhi*
*tum yaad na bhi kraro
chaahat phir bhi rahati hai.*💐

*तुझे ही फुर्सत न मिली,
मेरे किसी अफसाने को पढ़ने की
*हम तो किताबों की तरह
बिकते रहे तेरे शहर में…!!*

*tujhe hi fursat na milee,
mere kisi afsane ko padhane kee…!*
*ham to kitaabon kee tarah
bikate rahe tere shahar mein…!!*

*ज़िंदगी से सिकवा नही की
उसने गम का आदि बना दिया*
*गिला तो उनसे हैं जिन्होंने रोशनी की
उम्मीद दिखा के दिया ही बुझा दिया*

*zindagi se sikava nahi kee
usane gam ka aadi bana diya*
*gila to unase hain jinhonne roshani kee
ummeed dikha ke diya hee bujha diya*

ख्वाहिशों ने सिखाया
कि मचलना कैसे है…
तो हकीकत ने सिखाया
चुप रहकर जीना कैसे है

khvahishon ne sikhaya
ki machalna kaise hai…
to hakikat ne sikhaya
chup rahakar jeena kaise hai

तुझसे दूर जाने का वादा नहीं निभा पाए हम।
तेरे रंग के बिना ज़िन्दगी की तस्वीर नहीं बना पाए हम।

tujhase door jaane ka vaada
nahin nibha pae ham.
tere rang ke bina zindagee kee
tasveer nahin bana pae ham.

*वो मेरी तरफ़ देखता भी तो मैं दिखती कैसे*
*वो मेरी रोशनी में था,मैं उसके अंधेरे में।*

*wo meri taraf dekhata bhi to
main dikhati kaise*
*wo meri roshani mein tha,
main usake andhere mein.*

dard bhari shayari

dard bhari shayari

*सिर्फ एक बहाने की तलाश होती है,*
*निभाने वाले को भी, और जाने वाले को भी..*

*sirph ek bahaane kee talaash hoti hai,*
*nibhane wale ko bhi,
aur jaane wale ko bhi..*

Read Also-Hindi Status

English whatsapp Status

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here